Connect with us

Business

आज आएंगे महंगाई के आंकड़े,रिजर्व बैंक दिए दिए हैं घटने के संकेत

Published

on



महंगाई का अक्टूबर में 7 फीसदी से कम रहने का अनुमान। सितंबर में 7.41 फीसदी थी खुदरा मुद्रास्फीति दर। यह आंकड़े इस सप्ताह बाजार की दिशा तय करेंगे। इस सप्ताह इनका असर बाजार पर देखने को मिलेगा।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Business

psu bank stock may rises in upcoming months brokrage gives high rating

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

सरकारी बैंकों के शेयरों में जून से ही तेजी देखने को मिल रही है। आने वाले दिनों में यह तेजी बरकार रह सकती है। ग्लोबल इंवेस्टमेंट बैंक मार्गन स्टनेली का भरोसा भारत के सरकारी बैंकों पर बना हुआ है। इस ब्रोकरेज हाउस की ताजा रेटिंग ने निवेशकों की उम्मीदों को पंख लगा दिया है। 

इकोनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक ब्रोकरेज हाउस मार्गन स्टेनली ने पंजाब नेशनल बैंक के शेयरों को इक्वल-वेट रेटिंग और कैनेरा बैंक को ओवरवेट रेटिंग दिया है। वहीं, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा और बैंक ऑफ इंडिया के शेयरों के लिए अपनी ओवरवेट रेटिंग को बरकरार रखा है। ब्रोकरेज हाउस का मानना है कि बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ बड़ौदा का रिस्क-रिवार्ड रेशियो सबसे शानदार है। 

टुकड़ों में बंट सकता है यह ताबड़तोड़ रिटर्न देने वाला स्टॉक 

ईटी के अनुसार एक्सिस सिक्योरिटीज का मानना है कि 17 जून 2022 के बाद से ही सरकारी बैंकों के शेयरों में तेजी देखने को मिली है। वहीं, दूसरी तिमाही में अनुमान से बेहतर प्रदर्शन करने की वजह से शार्प रिकवरी पिछले महीने देखी गई है। 

ब्रोकरेज हाउस ने नया टारगेट प्राइस क्या दिया है? 

बैंक ऑफ इंडिया – रेटिंग ओवरवेट – टारगेट प्राइस 125 रुपये 

बैंक ऑफ बड़ौदा – रेटिंग – ओवरवेट – टारगेट प्राइस 220 रुपये 

पंजाब नेशनल बैंक – रेटिंग – इक्वल वेट – टारगेट प्राइस 60 रुपये 

केनरा बैंक – रेटिंग – ओवर वेट – टारगेट प्राइस 345 रुपये 

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया – रेटिंग -ओवर वेट – टारगेट प्राइस 715 रुपये 



Source link

Continue Reading

Business

Sula Vineyards IPO will launched 12 December chance to invest in wine marker company – Business News India

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

Sula Vineyards IPO: वाइन बनाने वाली कंपनी सुला वाइनयार्ड्स का इनिशियल पब्लिक आफरिंग यानी आईपीओ (IPO) अगले सप्ताह निवेश के लिए ओपन हो सकता है। विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी का आईपीओ सोमवार 12 दिसंबर को खुल सकता है। कंपनी ने इस साल जुलाई में पब्लिक इश्यू के लिए ड्राफ्ट प्रॉस्पेक्टस फाइल किया था। बता दें कि सुला वाइनयार्ड्स अगर लिस्ट होती है, तो कंपनी दलाल स्ट्रीट पर शुरुआत करने वाली भारत की पहली प्योर-प्ले वाइन निर्माता होगी। 

इश्यू साइज में कटौती

कंपनी ने अपने इश्यू साइज को कम कर दिया है और आईपीओ के जरिए लगभग 950-1,000 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है। हालांकि, कंपनी पहले अपने आईपीओ के जरिए करीब 1,200-1,400 करोड़ रुपये जुटाना चाह रही थी। कंपनी के डीआरएचपी के मुताबिक, यह इश्यू पूरी तरह से कंपनी के प्रमोटर्स और मौजूदा शेयरधारकों की ओर से ऑफर फॉर सेल (OFS) है।

यह भी पढ़ें- 2 महीने पहले आए थे 2 IPO, अब तीन गुना हुआ निवेशकों का पैसा, मिला 355% का रिटर्न

कंपनी के बारे में

सुला वाइनयार्ड्स 31 मार्च, 2021 तक भारत का सबसे बड़ा शराब उत्पादक और विक्रेता है। इसका प्रमुख ब्रांड ‘सुला’ भारत में शराब का ‘कैटेगरी क्रिएटर’ है। नासिक स्थित कंपनी RASA, डिंडोरी, द सोर्स, सटोरी, मदेरा और दीया सहित लोकप्रिय ब्रांडों के तहत वाइन डिस्ट्रिब्यूट करती है। बीते साल Sula Vineyards ने बताया था कि कंपनी की मैन्युफैक्चरिंग कैपासिटी 14.5 मिलियन लीटर थी। वित्त वर्ष 2022 में कंपनी का लाभ कई गुना बढ़कर 52.14 करोड़ रुपये हो गया, जबकि वित्त वर्ष 2021 में यह महज 3.01 करोड़ रुपये था। इस दौरान राजस्व में 8.60% की वृद्धि हुई और यह 453.92 करोड़ रुपये रहा।



Source link

Continue Reading

Business

Multibagger IPO 2 SME issue delivered huge 355 percent return debuted on 10 oct – Business News India

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

Multibagger IPO Return: इन दिनों एक से बढ़ कर एक दिग्गज कंपनी के इनिशियल पब्लिक आफरिंग यानी आईपीओ (IPO) लॉन्च हो रहे हैं। इतना ही नहीं दांव लगाने वालों को इससे अच्छा मुनाफा भी हुआ है। आज हम आपको दो ऐसे आईपीओ (IPO return) के बारे में बता रहे हैं जो इसी साल अक्टूबर के महीने में लॉन्च हुए थे और अब इनमें पैसे लगाने वाले मालामाल हो रहे हैं। ये दोनों एसएमई आईपीओ हैं। पहला- कॉनकॉर्ड कंट्रोल सिस्टम्स प्राइवेट लिमिटेड (Concord Control Systems IPO) और दूसरा- सिलिकॉन रेंटल सॉल्यूशंस (Silicon Rental Solutions)। बता दें कि इन दोनों आईपीओ की लिस्टिंग 10 अक्टूबर 2022 को हुई थी।

लिस्टिंग प्राइस से 355% ऊपर

कॉनकॉर्ड कंट्रोल की एक मजबूत लिस्टिंग हुई थी। 10 अक्टूबर की लिस्टिंग के बाद से अभी यह शेयर 355 प्रतिशत ऊपर है। वहीं, सिलिकॉन रेंटल सॉल्यूशंस की 10 अक्टूबर को म्यूट लिस्टिंग हुई थी, लेकिन उसके बाद से शेयरों में जबरदस्त तेजी है और यह शेयर अब तक 117 फीसदी उछल गया है।

क्या है आईपीओ डिटेल?

5.96 करोड़ रुपये का कॉनकॉर्ड कंट्रोल सिस्टम्स आईपीओ 27 सितंबर से 29 सितंबर तक ओपन था। इसे 202.41 बार सब्सक्राइब किया गया। स्टॉक बीएसई पर 55 रुपये के इश्यू प्राइस पर 109.95 रुपये पर लिस्ट हुआ। कंपनी के शेयर 250.35 रुपये प्रति शेयर पर है। यानी अब तक 355.18 प्रतिशत का रिटर्न दिया है।

सिलिकॉन रेंटल सॉल्यूशंस स्टॉक 78 रुपये के इश्यू प्राइस के मुकाबले 10 अक्टूबर को 80 रुपये पर म्यूट लिस्टिंग हुई थी। वर्तमान में शेयर प्राइस 169.45 रुपये पर है। यानी 117.24 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। यह आईपीओ 28 सितंबर से 30 सितंबर तक चला था और इसे 2.89 गुना सब्सक्राइब किया गया था।

80 से 100 रुपये तक जा सकता है यह शेयर, आज 52-वीक हाई पर भाव, एक्सपर्ट ने कहा- खरीदो

कंपनी के कारोबार

सिलिकॉन रेंटल सॉल्यूशंस एक आईटी उपकरण आउटसोर्सिंग कंपनी है। कंपनी मुख्य रूप से छोटे, मध्यम और बड़े कॉर्पोरेट को लैपटॉप, डेस्कटॉप, प्रिंटर, सर्वर और सीसीटीवी कैमरा, प्रोजेक्टर, स्टोरेज डिवाइस आदि जैसे अन्य सहायक इक्विपमेंट बनाती है। एसएमई आईपीओ इंडेक्स का एक हिस्सा सिलिकॉन रेंटल सॉल्यूशंस ने लिस्टिंग के दो महीनों के दौरान 186.70 रुपये के हाई और 80 रुपये के हाई को छुआ है। दूसरी ओर, कॉनकॉर्ड कंट्रोल सिस्टम भारतीय रेलवे और अन्य रेलवे ठेकेदारों के लिए कोच से संबंधित और विद्युतीकरण उत्पादों के निर्माण और आपूर्ति के कारोबार में लगा हुआ है। कंपनी रेलवे कोचों में आवश्यक उत्पादों जैसे इंटर-व्हीकल कपलर, इमरजेंसी लाइटिंग सिस्टम, ब्रशलेस डीसी कैरिज फैन, एग्जॉस्ट पंखे, केबल जैकेट, बेलोज़ आदि बनाती है।

 



Source link

Continue Reading

Trending

Copyright © 2022 All Right Reserved by AchookSamachar. Design & Developed by WebsiteWaleBhaiya