Connect with us

Tech

चुनाव चिन्ह हाथ का पंजा है तो क्या पंजा काट देना चाहिए? जी20 लोगो विवाद पर विरोधियों पर बरसे राजनाथ सिंह

Published

on



राजनाथ ने कहा कि आरोप लगाने की भी एक हद होती है, सच्चाई तो यह है कि कमल का फूल 1950 से ही हमारा राष्ट्रीय पुष्प है। झज्जर में सम्राट पृथ्वीराज चौहान की प्रतिमा के अनावरण समारोह में सिंह ने यह बात कही।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Tech

PM Modi visit Maharashtra Goa 11th December lay foundation stone inaugurate projects – India Hindi News

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 दिसंबर को महाराष्ट्र और गोवा के दौरे पर जाएंगे। महाराष्ट्र में PM मोदी 75,000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन करेंगे। मोदी नागपुर और बिलासपुर को जोड़ने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाएंगे और नागपुर में AIIMS का उद्घाटन करेंगे। PMO ने ट्वीट करके बताया कि प्रधानमंत्री मोदी 520 किलोमीटर की दूरी तय करने वाले और महाराष्ट्र में नागपुर और शिरडी को जोड़ने वाले समृद्धि महामार्ग के पहले चरण का भी उद्घाटन करेंगे।

PMO के मुताबिक, गोवा में पीएम नरेंद्र मोदी मोपा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन करेंगे, जिसे लगभग 2,870 करोड़ रुपये में विकसित किया गया है। नवंबर 2016 में प्रधानमंत्री ने एयरपोर्ट की आधारशिला रखी थी। पीएम मोदी की महाराष्ट्र यात्रा ऐसे समय हो रही है जब राज्य का कर्नाटक के साथ सीमा विवाद गरमा गया है। वहीं, गृह मंत्री अमित शाह इस विवाद को लेकर दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों से 14 दिसंबर को मुलाकात करेंगे। राकांपा नेता अमोल कोल्हे ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

कर्नाटक-महाराष्ट्र सीमा विवाद के बीच मोदी की यात्रा

गौरतलब है कि कर्नाटक-महाराष्ट्र सीमा विवाद को लेकर तनाव उस समय हिंसक हो गया जब बेलगांव और पुणे में एक-दूसरे राज्यों के वाहनों पर हमला किया गया। मालूम हो कि 1 मई 1960 में महाराष्ट्र के गठन के बाद से वह बेलगांव (अब बेलगावी), करवार और निप्पनी सहित 865 गांवों पर दावा करता है और उन्हें महाराष्ट्र में शामिल करने की मांग कर रहा है जबकि कर्नाटक इसे अपना क्षेत्र बता पड़ोसी राज्य के दावे को खारिज करता है।

महाराष्ट्र के शिरुर से लोकसभा सदस्य अमोल कोल्हे ने शुक्रवार को कहा, ‘गृहमंत्री ने हमारी बातों को संयम के साथ सुना। उन्होंने एमवीएम सांसदों को भरोसा दिया कि वह 14 दिसंबर को महाराष्ट्र व कर्नाटक के मुख्यमंत्रियों से बात करेंगे ताकि इस समस्या का सौहार्द्रपूर्ण समाधान निकल सके।’ एमवीए के सांसदों ने गुरुवार को शाह को पत्र लिखकर चेतावनी दी थी कि कर्नाटक-महाराष्ट्र सीमा विवाद से हिंसा भड़क सकती है और उन्होंने शाह से व्यक्तिगत रूप से मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की थी।  

Continue Reading

Tech

Nitish Kumar JDU Candidate 30 Votes Gujarat Election Result 2022 – India Hindi News – Gujarat Results 2022: गुजरात चुनाव में नीतीश कुमार के उम्मीदवार को मिले सिर्फ 30 वोट, बोले

Published

on

By


Gujarat Election Result 2022: गुजरात विधानसभा चुनाव में अहमदाबाद की बापूनगर सीट से नीतीश कुमार की जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के उम्मीदवार पठान इम्तियाज खान सिदखान को सबसे कम 30 वोट मिले। पठान (45) ने इसका ठीकरा अपनी पार्टी पर फोड़ते हुए कहा कि पार्टी ने उनके पक्ष में प्रचार नहीं किया। उन्होंने कहा, ”अगर मैं निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर लड़ता, तो ज्यादा वोट मिल सकते थे।” पठान राजनीति में नए नहीं हैं। उनके अनुसार उन्होंने साल 2019 के लोकसभा चुनाव में गुजरात की खेड़ा सीट से किस्मत आजमाई थी और उन्हें 5,000 से अधिक वोट मिले थे। 

उन्होंने कहा, ”उस समय मैं निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर खड़ा हुआ था। लेकिन यहां जदयू को कौन जानता है? कोई नहीं। यह तो होना ही था।” उन्होंने कहा कि पार्टी ने लगभग आधे दर्जन उम्मीदवार को टिकट दिया था, लेकिन सभी हार गए। गुजरात की कुल 182 विधानसभा सीट पर चुनाव लड़ने वाले 1,621 उम्मीदवारों में से पठान को सबसे कम वोट मिले। भाजपा ने इस चुनाव में 156 सीट जीतकर ऐतिहासिक विजय हासिल की। 

साल 2002 के गुजरात दंगों के दौरान गुलबर्ग सोसाइटी नरसंहार के प्रमुख गवाह पठान ने कहा कि 2019 के चुनाव के बाद वह असदुद्दीन औवेसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल-मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) में शामिल हो गए थे और दो वर्ष तक उसके सदस्य रहे। उन्होंने कहा, ”लेकिन जब मुझे लगा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में पार्टी टिकट नहीं देगी, तो मैं जद(यू) में शामिल हो गया।” 

2017 की तुलना में नौ प्रतिशत नोटा वोट में गिरावट

वहीं, गुजरात विधानसभा चुनाव में ‘नोटा’ के तहत पड़े वोट की हिस्सेदारी 2017 की तुलना में नौ प्रतिशत से अधिक घट गई है, इस बार खेड़ब्रह्मा सीट पर सबसे अधिक 7,331 वोट ‘नोटा’ पर पड़े हैं। निर्वाचन आयोग के आंकड़ों के अनुसार राज्य में इस चुनाव में 5,01,202 यानी 1.5 प्रतिशत वोट ‘नोटा’ के थे, जो 2017 के विधानसभा चुनाव में 5,51,594 से कम हैं। खेड़ब्रह्मा सीट पर सबसे ज्यादा 7,331 वोट ‘नोटा’ पर पड़े, उसके बाद दांता में 5,213 और छोटा उदयपुर में 5,093 वोट पड़े। देवगढ़ बारिया सीट पर 4,821, शेहरा पर 4,708, निझर पर 4,465, बारडोली पर 4,211, दस्करोई पर 4,189, धरमपुर पर 4,189, चोर्यासी पर 4,169, संखेड़ा पर 4,143, वडोदरा सिटी पर 4,022 और कपराडा पर 4,020 वोट ‘नोटा’ पर पड़े। 

Continue Reading

Tech

2023 में पहली बार स्क्रीन शेयर करेंगे ये एक्टर्स, किस जोड़ी को देखने के लिए हैं एक्साइटेड?

Published

on

By



बॉलीवुड के लिए 2022 बहुत अच्छा नहीं रहा ऐसे में 2023 से काफी उम्मीदें है। अगले साल पर्दे पर कई एक्टर्स पहली बार स्क्रीन शेयर करेंगे।…

Continue Reading

Trending

Copyright © 2022 All Right Reserved by AchookSamachar. Design & Developed by WebsiteWaleBhaiya