Connect with us

Business

बड़बोला अरबपति एक दिन में हो गया ‘कंगाल’, संपत्ति 16 अरब डॉलर से घटकर करीब एक अरब डॉलर रह गई

Published

on



युवा अमेरिकी अरबपति सैम बैंकमैन फ्रायड को बड़बोलापन भारी पड़ गया। उन्होंने अपने क्रिप्टो एक्सचेंज ‘एफटीएक्स’ की भावी योजना का अति उत्साह में खुलासा कर दिया। एक्सचेंज बिकने का पता चलते ही निवेशकों ने ह



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Business

bonus Share CL Educate hit 10 percent upper circuit record date next week

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

स्टॉक मार्केट में पिछले कुछ महीनों से तेजी देखने को मिली है। जिसका फायदा निवेशकों को खूब हो रहा है। लेकिन सीएल एडुटेक (CL Educate Share) उन कंपनियों में से है जिसने इस साल ओवर-आल बेहतर प्रदर्शन किया है। पोजीशनल निवेशकों इस साल कंपनी ने अबतक 43.78 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। बता दें, सीएल एडुकेट (CL Educate) की तरफ से अब निवेशकों को बोनस (Bonus Share) देने की तैयारी है। कंपनी ने इस बोनस इश्यू के लिए रिकॉर्ड डेट (Record Date) ऐलान कर दिया है। 

टुकड़ों में बंट जाएगा यह ताबड़तोड़ रिटर्न देने वाला स्टॉक

कब है रिकॉर्ड डेट? (CL Educate Bonus issue record date)

सीएल एडुकेट ने स्टॉक एक्सचेंज को दी जानकारी में बताया, “कंपनी के बोर्ड ने 5 रुपये के फेस वैल्यू वाले 1 शेयर पर 1 शेयर बोनस के रूप में दिया जाएगा।” कंपनी ने इसके लिए 16 दिसंबर 2022 की तारीख को रिकॉर्ड डेट तय किया है। यानी जिस किसी निवेशक का नाम कंपनी के रिकार्ड बुक में 16 दिसंबर को रहेगा उसे ही बोनस शेयर जारी किया जाएगा। 

मंगलवार को स्टॉक में लगा 10 प्रतिशत का अपर सर्किट 

मंगलवार यानी 6 दिसंबर 2022 को कंपनी के शेयरों में 10 प्रतिशत अपर सर्किट लग गया। जिसके बाद सीएल एडुकेट के शेयर का भाव 169.10 रुपये के लेवल पर पहुंच गया। हालांकि बाद में मामूली गिरावट के बाद बीएसई में कंपनी के शेयर 164.90 रुपये पर बंद हुए। पिछले 6 महीने में सीएल एडुकेट के शेयरों में 28.16 प्रतिशत की उछाल देखने को मिली है। वहीं, 1 महीने पहले जिस किसी निवेशक ने कंपनी के शेयरों पर भरोसा जताया होगा उसे 10.98 प्रतिशत का रिटर्न मिल चुका होगा। बता दें, कंपनी के 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर 190 रुपये है। वहीं, 52 वीक लो का लेवल 97 रुपये है। 



Source link

Continue Reading

Business

psu bank stock may rises in upcoming months brokrage gives high rating

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

सरकारी बैंकों के शेयरों में जून से ही तेजी देखने को मिल रही है। आने वाले दिनों में यह तेजी बरकार रह सकती है। ग्लोबल इंवेस्टमेंट बैंक मार्गन स्टनेली का भरोसा भारत के सरकारी बैंकों पर बना हुआ है। इस ब्रोकरेज हाउस की ताजा रेटिंग ने निवेशकों की उम्मीदों को पंख लगा दिया है। 

इकोनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक ब्रोकरेज हाउस मार्गन स्टेनली ने पंजाब नेशनल बैंक के शेयरों को इक्वल-वेट रेटिंग और कैनेरा बैंक को ओवरवेट रेटिंग दिया है। वहीं, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा और बैंक ऑफ इंडिया के शेयरों के लिए अपनी ओवरवेट रेटिंग को बरकरार रखा है। ब्रोकरेज हाउस का मानना है कि बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ बड़ौदा का रिस्क-रिवार्ड रेशियो सबसे शानदार है। 

टुकड़ों में बंट सकता है यह ताबड़तोड़ रिटर्न देने वाला स्टॉक 

ईटी के अनुसार एक्सिस सिक्योरिटीज का मानना है कि 17 जून 2022 के बाद से ही सरकारी बैंकों के शेयरों में तेजी देखने को मिली है। वहीं, दूसरी तिमाही में अनुमान से बेहतर प्रदर्शन करने की वजह से शार्प रिकवरी पिछले महीने देखी गई है। 

ब्रोकरेज हाउस ने नया टारगेट प्राइस क्या दिया है? 

बैंक ऑफ इंडिया – रेटिंग ओवरवेट – टारगेट प्राइस 125 रुपये 

बैंक ऑफ बड़ौदा – रेटिंग – ओवरवेट – टारगेट प्राइस 220 रुपये 

पंजाब नेशनल बैंक – रेटिंग – इक्वल वेट – टारगेट प्राइस 60 रुपये 

केनरा बैंक – रेटिंग – ओवर वेट – टारगेट प्राइस 345 रुपये 

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया – रेटिंग -ओवर वेट – टारगेट प्राइस 715 रुपये 



Source link

Continue Reading

Business

Sula Vineyards IPO will launched 12 December chance to invest in wine marker company – Business News India

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

Sula Vineyards IPO: वाइन बनाने वाली कंपनी सुला वाइनयार्ड्स का इनिशियल पब्लिक आफरिंग यानी आईपीओ (IPO) अगले सप्ताह निवेश के लिए ओपन हो सकता है। विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी का आईपीओ सोमवार 12 दिसंबर को खुल सकता है। कंपनी ने इस साल जुलाई में पब्लिक इश्यू के लिए ड्राफ्ट प्रॉस्पेक्टस फाइल किया था। बता दें कि सुला वाइनयार्ड्स अगर लिस्ट होती है, तो कंपनी दलाल स्ट्रीट पर शुरुआत करने वाली भारत की पहली प्योर-प्ले वाइन निर्माता होगी। 

इश्यू साइज में कटौती

कंपनी ने अपने इश्यू साइज को कम कर दिया है और आईपीओ के जरिए लगभग 950-1,000 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है। हालांकि, कंपनी पहले अपने आईपीओ के जरिए करीब 1,200-1,400 करोड़ रुपये जुटाना चाह रही थी। कंपनी के डीआरएचपी के मुताबिक, यह इश्यू पूरी तरह से कंपनी के प्रमोटर्स और मौजूदा शेयरधारकों की ओर से ऑफर फॉर सेल (OFS) है।

यह भी पढ़ें- 2 महीने पहले आए थे 2 IPO, अब तीन गुना हुआ निवेशकों का पैसा, मिला 355% का रिटर्न

कंपनी के बारे में

सुला वाइनयार्ड्स 31 मार्च, 2021 तक भारत का सबसे बड़ा शराब उत्पादक और विक्रेता है। इसका प्रमुख ब्रांड ‘सुला’ भारत में शराब का ‘कैटेगरी क्रिएटर’ है। नासिक स्थित कंपनी RASA, डिंडोरी, द सोर्स, सटोरी, मदेरा और दीया सहित लोकप्रिय ब्रांडों के तहत वाइन डिस्ट्रिब्यूट करती है। बीते साल Sula Vineyards ने बताया था कि कंपनी की मैन्युफैक्चरिंग कैपासिटी 14.5 मिलियन लीटर थी। वित्त वर्ष 2022 में कंपनी का लाभ कई गुना बढ़कर 52.14 करोड़ रुपये हो गया, जबकि वित्त वर्ष 2021 में यह महज 3.01 करोड़ रुपये था। इस दौरान राजस्व में 8.60% की वृद्धि हुई और यह 453.92 करोड़ रुपये रहा।



Source link

Continue Reading

Trending

Copyright © 2022 All Right Reserved by AchookSamachar. Design & Developed by WebsiteWaleBhaiya