Connect with us

Tech

Aftab Poonawala Shraddha Walkar Murder Google Dehradun Case Internet History – India Hindi News

Published

on


ऐप पर पढ़ें

Aftab Poonawala, Shraddha Walkar Case: शव के टुकड़े करने से लेकर नई फ्रिज खरीदने और फिर शव के टुकड़ों को जंगल में फेंकने तक, श्रद्धा वॉकर मर्डर केस और साल 2010 में देहरादून में हुए अनुपमा गुलाटी मर्डर केस के बीच कई समानताएं हैं। पुलिस ने बताया कि आफताब पूनावाला की इंटरनेट हिस्ट्री से पता चलता है कि उसने भी उस मामले को पढ़ा था और गूगल किया था। आफताब पूनावाला ने मई महीने में अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वॉकर की हत्या कर दी थी। इसके बाद शवों के 35 टुकड़े करके उन्हें जंगल में धीरे-धीरे ठिकाने लगा दिया। हालांकि, यह पूरा मामला तब खुला, जब श्रद्धा के पिता ने पिछले महीने पुलिस में शिकायत दर्ज की। श्रद्धा के पैरेंट्स इंटर-रिलीजन मैरिज के खिलाफ होने की वजह से कई महीनों तक अपनी बेटी के संपर्क में नहीं थे। 

एनडीटीवी के अनुसार, अनुपमा गुलाटी मामले में उसके पति राजेश गुलाटी को 2017 में जेल में आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी। उसे तब गिरफ्तार किया गया था, जब पीड़िता के माता-पिता उसकी तलाश में आए थे। वह दो महीने के लिए हत्या को छिपाने में कामयाब रहा। वहीं, आफताब पूनावाला ने भी ऐसा ही किया। यहां तक कि इस दौरान उसके फ्लैट पर कुछ दोस्त भी आए।

देहरादून हत्याकांड में भी युवक ने हॉलीवुड फिल्मों से प्रेरणा ली थी। इसी तरह आफताब पूनावाला ने भी कथित तौर पर टीवी सीरीज ‘डेक्सटर’ की साजिशों का पालन करते हुए अपराध को मिटाने की कोशिश की, ताकि लोगों को सच्चाई के बारे में पता नहीं चल सके। दोनों हत्यारों ने कटे हुए शवों को रखने के लिए रेफ्रिजरेटर खरीदे। राजेश गुलाटी ने शव को 70 से अधिक टुकड़ों में काट दिया और उन्हें तीन महीने के लिए एक बड़े डीप-फ्रीज़र में रख दिया। इसके बाद उसने पास के हिल स्टेशन मसूरी के जंगलों में इन शवों के टुकड़ों को ठिकाने पर लगा दिया। वह यह काम तब करता था, जब अपने बच्चों को स्कूल छोड़ आता है।

वहीं, दिल्ली के मर्डर केस में पुलिस ने बताया कि आफताब पूनावाला ने 300 लीटर की फ्रिज खरीदी थी। श्रद्धा वॉकर की हत्या करने के बाद उसने शवों के टुकड़े किए और उन्हें फ्रिज में रखा। इसके बाद अगले 18 दिनों तक वह रात में महरौली के पास जंगलों में जाता रहा और उन टुकड़ों को ठिकाने पर लगाता रहा। हत्या को छिपाने के लिए राजेश गुलाटी अपनी पत्नी के भाई से बात करता रहा। वहीं, पूनावाला ने भी अपनी गर्लफ्रेंड के फोन से इंस्टाग्राम के जरिए दोस्तों से कनेक्ट रहा, ताकि किसी को भी मर्डर के बारे में कोई शक नहीं हो। देहरादून मामले में पुलिस को राजेश की पत्नी की बॉडी के कुछ टुकड़े फ्रीजर में मिल गए थे, लेकिन आफताब ने श्रद्धा के सभी टुकड़ों को ठिकाने लगा दिया। 

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Tech

धार्मिक त्योहार दंगों का समय नहीं होता, PIL खारिज करते हुए बोला सुप्रीम कोर्ट

Published

on

By



हम धार्मिक त्योहारों को दंगे के स्रोत के रूप में क्यों दिखाते हैं? शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने एक पीआईएल पर सुनवाई के दौरान यह बात कही। यह पीआईएल एक एनजीओ की तरफ दायर किया गया था।

Continue Reading

Tech

पंजाब के दिव्यांग कर्मियों को मिलेगा 1000 रुपये मासिक भत्ता, 1 जनवरी से लागू होगी योजना; CM की मिली मंजूरी

Published

on

By



सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग ने यह भी फैसला लिया कि अब 40 फीसदी विकलांगता वाले सरकारी मुलाजिम अपने गृह क्षेत्र में ट्रांसफर करवा सकेंगे। इससे पहले यह सीमा 60 फीसदी विकलांगता की थी।

Continue Reading

Tech

VIDEO: बीच रास्ते में युवक की पिटाई के बाद बदायूं में बवाल, अफसरों पर पत्थरबाजी, सीओ की गाड़ी तोड़ी

Published

on

By



यूपी के बदायूं में शुक्रवार की शाम पुलिस की पिटाई से एक युवक बेहोश हो गया। इसके बाद गुस्साए लोगों ने जमकर हंगामा कर दिया। लोगों के हंगामे की सूचना पर आला अफसर भी मौके पर पहुंच गए।

Continue Reading

Trending

Copyright © 2022 All Right Reserved by AchookSamachar. Design & Developed by WebsiteWaleBhaiya