Connect with us

Tech

Akhilesh Yadav Dimple Yadav Mainpuri Elections No Mistake from Azamgarh and Rampur Results

Published

on


ऐप पर पढ़ें

Dimple Yadav, Mainpuri Elections: उत्तर प्रदेश की मैनपुरी लोकसभा सीट पर होने वाले उप-चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी ने पूर्व सांसद डिंपल यादव को मैदान में उतारा है। बीजेपी की ओर से रघुराज शाक्य को उम्मीदवार बनाया गया है। सपा-भाजपा की आमने-सामने की लड़ाई में इस बार पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव अपनी पुरानी गलतियों से सबक लेकर आगे बढ़ रहे हैं। अखिलेश अपनी उन गलतियों को मैनपुरी में नहीं दोहरा रहे हैं, जो उन्होंने आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा उप-चुनाव में की थीं। मैनपुरी उप-चुनाव में अखिलेश पूरे परिवार के साथ डिंपल यादव को जीत दिलाने के लिए चुनावी मैदान में उतर गए हैं। एक के बाद एक विभिन्न इलाकों में जाकर लोगों से मुलाकात कर रहे हैं और डिंपल को वोट देने की अपील कर रहे।

आजमगढ़ और रामपुर से अखिलेश ने सीखा सबक

इस साल यूपी विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करने के बाद अखिलेश यादव ने आजमगढ़ और आजम खान ने रामपुर लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया था। सपा के दोनों दिग्गज नेताओं ने आगामी सालों में प्रदेश की राजनीति में पूरा ध्यान लगाने के चलते सांसद पद से इस्तीफा दिया। इसके बाद दोनों जगह हुए उपचुनाव में समाजवादी पार्टी को तगड़ा झटका लगा और दोनों ही सीटों पर बीजेपी की जीत हुई। आजमगढ़ से बीजेपी कैंडिडेट दिनेश लाल ‘निरहुआ’ को जीत मिली। उन्होंने धर्मेंद्र यादव को हराकर सभी को हैरान कर दिया था। वहीं, रामपुर से बीजेपी कैंडिडेट घनश्याम सिंह लोधी ने सपा के मोहम्मद आसिम राजा को हरा दिया। इन दोनों सीटों पर हुए उपचुनाव में अखिलेश यादव ने खुद प्रचार नहीं किया और आजमगढ़ में धर्मेंद्र यादव के व रामपुर में आजम खान के भरोसे रहे, लेकिन दोनों ही जगह उन्हें झटका लगा।

दोनों जगह क्यों नहीं किया था चुनाव प्रचार?

अखिलेश यादव इस साल जून महीने में हुए आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा उपचुनाव में पूरी तरह से गायब रहे, जबकि बीजेपी ने दिग्गज नेताओं की झड़ी लगा दी और आखिरकार फैसला भी उनके ही हक में गया। दोनों जगह अखिलेश के प्रचार नहीं करने के पीछे कई वजह सामने आई थीं। पहला अखिलेश अतिआत्मविश्वास में थे कि दिग्गज नेताओं की सीट होने की वजह से उन्हें कोई भी हरा नहीं सकेगा। मालूम हो कि 2014 में आजमगढ़ से खुद मुलायम सिंह यादव और 2019 में अखिलेश यादव ने जीत दर्ज की थी। वहीं, रामपुर लंबे समय से आजम खान का गढ़ माना ही जाता रहा है। ऐसे में सपा अध्यक्ष को पूरा यकीन था कि उनके वहां नहीं जाने से भी पार्टी उम्मीदवारों को कोई नुकसान नहीं होने वाला है। वहीं, आजम खान और अखिलेश यादव के बीच उस दौरान कथित तौर पर बेहतर रिश्ते नहीं होने की वजह से भी एक्सपर्ट्स मानते हैं कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने लोकसभा उपचुनाव में प्रचार से दूरी बना ली थी। हालांकि, बाद में अखिलेश और आजम खान कई बार साथ दिखे और रिश्ते भी बेहतर होते हुए प्रतीत हुए।

सबक सीख मैनपुरी में जमीन पर उतरे अखिलेश

पिछले दोनों लोकसभा उपचुनाव से सबक लेते हुए अखिलेश यादव मैनपुरी उपचुनाव में जमीन पर उतरकर पत्नी डिंपल यादव के लिए वोट मांग रहे हैं। अखिलेश कई दिनों से मैनपुरी में ही डेरा जमाए हुए हैं और स्थानीय नेताओं व कार्यकर्ताओं से मुलाकात करके जीत सुनश्चित करने की कोशिश कर रहे हैं। बीते दिन अखिलेश ने किशनी के एक स्कूल में बैठक में हिस्सा लिया और डिंपल यादव को जिताने की अपील की। इसके अलावा, भी अखिलेश ने कई अन्य इलाकों का दौरा करके डिंपल के लिए वोट मांगा। दरअसल, मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई मैनपुरी सीट पर अखिलेश कोई भी रिस्क नहीं लेना चाहते हैं। इस सीट पर अखिलेश यादव की खुद की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है। ऐसे में उन्होंने पिछले उपचुनावों से सीखते हुए खुद ही कमान संभाल ली है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Tech

गुजरात में ओवैसी के लिए भी खुशखबरी, भगवा आंधी में एंट्री के संकेत

Published

on

By



गुजरात में भारतीय जनता पार्टी रिकॉर्ड जीत की ओर बढ़ गई है। राज्य में अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए भाजपा 150 से अधिक सीटों पर जीत हासिल कर सकती है। कांग्रेस और आप दावों से बेहद दूर है।

Continue Reading

Tech

Himachal Chunav Results: हिमाचल में भाजपा को बागियों से भरोसा, कांटे की टक्कर में बन सकते हैं किंगमेकर

Published

on

By



हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी में कांटे की टक्कर दिख रही है। शुरुआती रुझानों में बीजेपी के कुछ बागी उम्मीदवार आगे चल रहे हैं। किसी को बहुमत नहीं मिलती है तो ये किंगमेकर बन सकते हैं।

Continue Reading

Tech

pradesh-election-results-2022-live-updates-hp-vidhan-sabha-chunav-bjp-aap-congress – himachal assembly elections 2022: हिमाचल में किस सीट पर कौन चल रहा आगे, जानिए पल-पल का अपडेट

Published

on

By


विधानसभा सीट

    पार्टी

जीत-हार


चुराह (एससी)

हंसराज (भाजपा)

आगे


चंबा 

नीलम नयार भाजपा

आगे

 


सिराज

जयराम ठाकुर (भाजपा)

आगे

 


डलहौजी

डीएस ठाकुर

आगे

 


भटियात

कुलदीप सिंह पठानिया (कांग्रेस)

आगे

 


नूरपुर

रणवीर सिंह निक्का (भाजपा)

आगे

 


देहरा

होशयार सिंह (निर्दलीय)

आगे

 


फतेहपुर

भवानी सिंह पठानिया (कांग्रेस)

आगे

 


जावालामुखी

संजय रतन (कांग्रेस)

आगे

 


जैसिंघपुर 

 रविंदर कुमार धीमान (भाजपा)

आगे

 


सुल्लाह

विपिन सिंह परमार (भाजपा)

आगे

 


नगरोटा

आरएस बलि (कांग्रेस)

आगे

 


कांगड़ा

पवन कुमार काजल (भाजपा)

आगे


शाहपुर

केवल सिंह (कांग्रेस)

आगे

 


धर्मशाला

सुधीर शर्मा (कांग्रेस)

आगे

 


पालमपुर

आशीष बुटेल (कांग्रेस)

आगे

 


बैजनाथ

मुल्ख राज (भाजपा)

आगे

 


लाहौल एंड स्पीति

डॉ. राम लाल (भाजपा)

आगे

 


मनाली

भुवनेश्वर गौर (कांग्रेस)

आगे

 


कुल्लु

सुंदर सिंह ठाकुर (कांग्रेस)

आगे

 


बंजार

सुरेंद्र शौरी (भाजपा)

आगे

 


अन्नी

लोकेंद्र कुमार (भाजपा)

आगे

 


करसोग

दीप राज (भाजपा)

आगे

 


सुंदरनगर

राकेश कुमार (भाजपा)

आगे

 


नाचन

विनोद कुमार (भाजपा)

आगे

 


दारंग

पूरन चंद (भाजपा)

आगे

 


जोगिन्दरनगर

प्रकाश प्रेम कुमार (भाजपा)

आगे

 


धर्मपुर

रजत ठाकुर (भाजपा)

आगे

 


मंडी

अनिल शर्मा (भाजपा)

आगे

 


बल्ह

इंदर सिंह (भाजपा)

आगे

 


भोरंज

सुरेश कुमार (कांग्रेस)

आगे

 


सुजानपुर

रंजीत सिंह राणा (भाजपा)

आगे

 


हमीरपुर

आशीष शर्मा (निर्दलीय)

आगे

 


नादौन

सुखविंदर सिंह (कांग्रेस)

आगे

 


चिंतपूर्णी

सुदर्शन सिंह (कांग्रेस)

आगे

 


गगरेट

चैतन्य शर्मा (कांग्रेस)

आगे

 


हरोली

मुकेश अग्निहोत्री (कांग्रेस)

आगे

 


ऊना

सतपाल सत्ती (कांग्रेस)

आगे

 


कुटलैहड़

देविंदर कुमार (कांग्रेस)

आगे

 


श्रीनैना देवी

राम लाल ठाकुर (कांग्रेस)

आगे

 


बिलासपुर

 

 

 


घुमारवी

 

 

 


झंडूता

 

 

 


अरकी

राजेंद्र (कांग्रेस)

आगे

 


नालागढ़

के एल ठाकुर (कांग्रेस)

आगे

 


दून

 

 

 


सोलन

धनी राम (कांग्रेस)

आगे

 


कसौली

 

 

 


पंछाद

 

 

 


नाहन

राजीव बिंदल (भाजपा)

आगे

 


श्री रेणुकाजी

नारायण सिंह (भाजपा)

आगे

 


पौंटा साहिब

सुख राम (भाजपा)

आगे

 


शिलाई

बलदेव सिंह (भाजपा)

आगे

 


चोपल

रजनीश (कांग्रेस)

आगे

 


ठियोग

 

 

 


कसुम्पटी

अनिरुद्ध सिंह (कांग्रेस)

आगे

 


शिमला

हरीश जनार्था (कांग्रेस)

आगे

 


शिमला ग्रामीण

विक्रमादित्य सिंह (कांग्रेस)

आगे

 


जब्बल कोटखाई

रोहित ठाकुर (कांग्रेस)

आगे

 


रामपुर

 

 

 


रोहरु

मोहन लाल (कांग्रेस)

आगे

 


किन्नौर

जगत सिंह नेगी (कांग्रेस)

आगे

 


 

 

 

 


 

 

 

 


 

 

 

 


 

 

 

 


 


Continue Reading

Trending

Copyright © 2022 All Right Reserved by AchookSamachar. Design & Developed by WebsiteWaleBhaiya