Connect with us

Tech

Know about SSC GD Constable Exam 2022 pattren

Published

on


SSC GD Constable Exam 2022 : कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) ने असम राइफल्स में राइफलमैन (जीडी) के पद के लिए बीएसएफ, सीआईएसएफ, सीआरपीएफ, एसएसबी और आईटीबीपी जैसे केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) में कांस्टेबल जीडी की भर्ती के लिए आवेदन लिंक को एक्टिव कर दिया है। एनसीबी में सिपाही का पद 10वीं पास उम्मीदवारों के लिए यह सुनहरा मौका है क्योंकि आयोग ने कुल 24369 रिक्तियों को अधिसूचित किया है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 30 नवंबर 2022 है।  आवेदन करने का डायरेक्ट लिंक नीचे दिए गया है।

SSC GD Constable Online Application Link

SSC GD Constable Notification PDF Link

आइए जानते हैं कांस्टेबल जीडी की भर्ती के कैसा होगा परीक्षा का आयोजन

सबसे पहले उम्मीदवारों को बता दें, उम्मीदवारों का चयन कंप्यूटर आधारित परीक्षा (CBE)

शारीरिक दक्षता परीक्षा (PET), शारीरिक मानक परीक्षण (PST),चिकित्सा परीक्षा

(डीएमई / आरएमई) और  डॉक्यूमेंट्स वेरिफिकेशन के आधार पर किया जाएगा।

SSC GD Constable Exam 2022: ऐसे होगी परीक्षा

– परीक्षा का तरीका ऑनलाइन होगा

– परीक्षा की अवधि 1 घंटे की होगी।

– गलत उत्तर देने पर 0.50 अंक की नेगेटिव मार्किंग  होगी


इन सब्जेक्ट्स पूछे जाएंगे ऐसे प्रश्न

जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग-  40 अंकों के 20 प्रश्न पूछे जाएंगे।

जनरल नॉलेज एंड जनरल अवेयरनेस-40 अंकों के 20 प्रश्न पूछे जाएंगे।

एलिमेंट्री मैथेमेटिक्स- 40 अंकों के 20 प्रश्न पूछे जाएंगे।

इंग्लिश/हिंदी- 40 अंकों के 20 प्रश्न पूछे जाएंगे।

परीक्षा में 160 अंक के 80 प्रश्न पूछे जाएंगे।


 SSC GD Constable Exam 2022: ऐसे करना होगा आवेदन

स्टेप 1-  सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट  ssc.nic.in. पर जाना होगा।

स्टेप 2-  ‘New User’ लिंक पर क्लिक करें।

स्टेप 3-  अपने ‘रजिस्ट्रेशन-नंबर’ और पासवर्ड के माध्यम से ऑनलाइन सिस्टम में लॉग इन करें।

स्टेप 4- अब  ‘Apply’ लिंक पर क्लिक करें।

स्टेप 5- मांगी गई सभी जानकारी भरें।

स्टेप 6- अपना हाल ही का फोटोग्राफ, हस्ताक्षर अपलोड करें।

स्टेप 7- अब घोषणा को ध्यान से पढ़ें और यदि आप स्वीकार करते हैं तो  “I agree”  चेक बॉक्स पर क्लिक करें, वहीं कैप्चा कोड भरें।

स्टेप 8-  आपके द्वारा प्रदान की गई जानकारी का पूर्वावलोकन और वेरिफाई करें।

स्टेप 9- आवेदन फीस का भुगतान करें।

स्टेप 10- अपने स्वयं के रिकॉर्ड के लिए आवेदन फॉर्म का प्रिंटआउट लें।

 

 

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Tech

2023 में पहली बार स्क्रीन शेयर करेंगे ये एक्टर्स, किस जोड़ी को देखने के लिए हैं एक्साइटेड?

Published

on

By



बॉलीवुड के लिए 2022 बहुत अच्छा नहीं रहा ऐसे में 2023 से काफी उम्मीदें है। अगले साल पर्दे पर कई एक्टर्स पहली बार स्क्रीन शेयर करेंगे।…

Continue Reading

Tech

पहले थे दीवाने, अब लगे कमाने, प्यार में धोखा खाए लोगों से आधा किराया लेता है यूपी का ये रिक्शावाला, पढ़ें दिलचस्प कहानी 

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

यूपी की सड़क पर एक ई-रिक्शा दौड़ रहा है। जिस पर लिखा है पहले थे दीवाने, अब लगे कमाने। प्यार में धोखा खाए लोगों से आधा किराया। इस रिक्शे को जो भी देखता एक बार उस पर लिखे स्लोगन पर लोगों की नजरें जरूर ठहर जातीं। रिक्शे पर लिखे स्लोगन के पीछे की वजह जब रिक्शा मालिक से पूछी गई तो उसका पुराना दर्द उभर आया। बातों ही बातों में पता चला कि रिक्शा मालिक खुद प्रेमिका से धोखा खा चुका है। प्रेमिका से धोखा मिलने के बाद उसने रिक्शा लिया और आने वाली पीढ़ी के युवाओं को स्लोगन के जरिए बेवफाओं से सावधान रहने का संदेश देना शुरू कर दिया। उसने बताया कि उसके रिक्शा में अगर कोई प्यार में धोखा खाए व्यक्ति बैठता है तो उससे वह आधा किराया ही लेते हैं। 

यूपी के लखीमपुर जिले का एक ई-रिक्शा इन दिनों काफी चर्चित है। उससे ज्यादा चर्चाएं रिक्शे पर लिखे स्लोगन की हो रही हैं। कोतवाली सदर इलाके के मोहल्ले के रहने वाले रिंकू से जब इस स्लोगन के बारे में जानकारी चाही गई तो उसने पूरी प्रेमी कहानी बता डाली। रिंकू ने बताया कि वह एक लड़की से प्रेम करता था। उसका कहना है कि प्रेमिका संग शादी करके अच्छी जिंदगी बिताने का ख्वाब देख रखा था। कई वर्षों तक वह लड़की के आगे-पीछते घूमता रहा, लेकिन कुछ दिनों के बाद लड़की ने उसे धोखा दे दिया। रिंकू का कहना है कि प्यार के चक्कर में उनका समय भी बर्बाद हुआ और पैसा भी।

रिंकू ने बताया कि प्यार में धोखा खाने के बाद उन्होंने खुद को संभाला। हालांकि अब उनके पास न प्यार न पैसा। आगे ही जिंदगी जीने के लिए रिंकू ने लोन लेकर ई-रिक्शा खरीदा। ई-रिक्शा पर रिंकू ने आने वाले दौर के युवाओं को जागरूक करने के लिए स्लोगन लिखवाया। रिक्शा में पहले थे दीवाने अब लगे कमाने के अलावा लिखा है बेवफाओं से होशियार। प्यार में धोखा खाए रिंकू ने अपना दर्द बयां करते हुए बताया,  रिक्शा पर लिखे स्लोगन के जरिए आने वाली पीढ़ी के युवाओं को एक संदेश भी देना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि वह प्यार में धोखा खाए लोगों से आधा किराया लेकर यात्री को मंजिल तक पहुंचाते हैं। 

Continue Reading

Tech

IMD Rainfall Alert Cyclone Mandous Update 9 December Weather report Forecast Barish School College Closed – India Hindi News

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

IMD Rainfall Alert, Cyclone Mandous, 9 December Rain Update: उत्तर भारत के राज्यों में तापमान में गिरावट आ रही है तो वहीं दक्षिण के राज्यों में भारी बारिश का कहर जारी है। चक्रवाती तूफान मैंडूस की वजह से दक्षिणी राज्यों के लिए मौसम विभाग ने चेतावनी भी जारी की है। मौसम विभाग के अनुसार, कल का चक्रवाती तूफान ‘मैंडूस’ दक्षिण पश्चिम की खाड़ी के ऊपर बना हुआ है और यह बीते कल को एक चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया। हालांकि, आज शाम को फिर से यह तूफान कमजोर हो गया है।

दो दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि इसके आज मध्यरात्रि से लेकर कल सुबह तक उत्तर-पश्चिमी की ओर बढ़ने और उत्तर तमिलनाडु, पुडुचेरी को पार करने की संभावना है। इस दौरान, मल्लापुरम के आसपास, पुडुचेरी और श्रीहरिकोटा के बीच दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटों के आसपास 56-85 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं। मौसम विभाग ने बताया है कि आज और कल (9 और 10 दिसंबर) को उत्तरी तमिलनाडु, दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश और रायलसीमा में भारी से बहुत भारी बारिश और आज 9 दिसंबर को उत्तरी तमिलनाडु के आसपास की जगहों में भी बेहद भारी बारिश देखने को मिलेगी।

ठंड पर मौसम विभाग का अपडेट

वहीं, मौसम विभाग ने बताया है कि पश्चिम और मध्य भारत में अगले 24 घंटों के दौरान न्यूनतम तापमान में कोई बड़ा बदलाव देखने को नहीं मिलने वाला है। अगले चार दिनों तक यह न्यूनतम तापमान दो से चार डिग्री सेल्सियस तक बढ़ सकता है। इसके अलावा, पूर्वी भारत में मिनिमम टेम्प्रेचर के अगले चार से पांच दिनों तक दो से चार डिग्री सेल्सियस बढ़ने के आसार हैं। बाकी के क्षेत्र में अगले चार से पांच दिनों तक मिनिमम टेम्प्रेचर में कोई बदलाव नहीं देखने को मिलेगा। मौसम विभाग के अनुसार, पंजाब में 10-13 दिसंबर के बीच सुबह के समय घना कोहरा देखने को मिलेगा। वहीं, हरियाणा में 10-12 दिसंबर के बीच घना कोहरा छाया रहेगा। अगले दो दिनों तक असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में मध्यम कोहरा छाया रह सकता है। 

चक्रवाती तूफान के कारण कई जगह भारी बारिश

चक्रवाती तूफान ‘मैंडूस’ के तमिलनाडु के तट के करीब पहुंचने के कारण राज्य के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई और कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई। चक्रवाती तूफान के कारण राज्य के कई क्षेत्रों में भारी वर्षा हुई। नुंगमबक्कम में रिकॉर्ड सात सेंटीमीटर बारिश हुई जबकि अन्य क्षेत्रों में हल्की से मध्यम स्तर की बारिश हुई। आईएमडी ने कहा कि डॉपलर मौसम रडार चक्रवात की निगरानी कर रहे हैं, जो 24 घंटे से कम समय के लिए एक गंभीर चक्रवाती तूफान के बाद नौ दिसंबर को एक चक्रवाती तूफान के रूप में तब्दील हो गया। यह अब चेन्नई से लगभग 260 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व और कराईकल से 180 किमी पूर्व-उत्तर पूर्व में स्थित है। मैंडूस अरबी भाषा का एक शब्द है और इसका अर्थ है खजाने की पेटी (बॉक्स) और यह नाम संयुक्त अरब अमीरात द्वारा चुना गया था। 

पांच उड़ानों को किया गया रद्द

चक्रवाती तूफान के शनिवार की मध्यरात्रि और तड़के उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और उत्तर तमिलनाडु, पुडुचेरी तथा श्रीहरिकोटा के पास ममल्लापुरम व दक्षिणी आंध्र प्रदेश के तटों को पार करने की संभावना है। इस दौरान अधिकतम 65-75 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 85 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। आज शाम छह बजे से आधी रात तक यहां से कम से कम पांच उड़ानों को रद्द कर दिया गया है। इस दौरान उपनगरीय सेवाओं सहित ट्रेनों का संचालन किया गया और कई क्षेत्रों में जलभराव के कारण बस सेवाओं में कुछ व्यवधान आया। कई जिलों में स्कूल और कॉलेज बंद रहे। पड़ोसी पुडुचेरी में, क्षेत्रीय प्रशासन ने आईएमडी द्वारा चक्रवात की चेतावनी जारी करने के बाद शुक्रवार और शनिवार को पुडुचेरी और कराईकल क्षेत्रों में सभी स्कूलों और कॉलेजों के लिए अवकाश घोषित किया। 

दो दिनों तक स्कूल-कॉलेज बंद

पुडुचेरी के गृह और शिक्षा मंत्री ए नमस्सिवम ने एक विज्ञप्ति में कहा कि सरकार ने आईएमडी द्वारा जारी चेतावनी पर ध्यान दिया है कि बंगाल की खाड़ी में तूफान के प्रभाव में पुडुचेरी और कराईकल क्षेत्रों में एक मजबूत चक्रवात आएगा। उन्होंने कहा कि शुक्रवार से दो दिनों तक सभी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे। राजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग ने राहत कार्यों से संबंधित सभी विभागों को तैयार रहने और किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए बचाव दलों को तैनात किया है। पुडुचेरी बंदरगाह पर एक तूफान चेतावनी संकेत ध्वज संख्या पांच फहराया गया है और मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने के लिए कहा गया है। मौजूदा स्थिति को लेकर पुडुचेरी के मुख्यमंत्री एन रंगासामी ने राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारियों के साथ चर्चा की।

Continue Reading

Trending

Copyright © 2022 All Right Reserved by AchookSamachar. Design & Developed by WebsiteWaleBhaiya