Connect with us

Tech

Lalu Yadav engaged in setting MY equation major reshuffle in Bihar RJD

Published

on


ऐप पर पढ़ें

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पार्टी में बड़ा फेरबदल करने जा रहे हैं। MY यानी मुस्लिम-यादव समीकरण को ध्यान में रखते हुए संगठन में बड़े स्तर पर नई नियुक्ति होने वाली है। खबर है कि जगदानंद सिंह की आरजेडी प्रदेश अध्यक्ष पद से छुट्टी होने वाली है और उनकी जगह अब्दुल बारी सिद्दीकी को यह जिम्मेदारी दी जाएगी। इसके साथ ही सामाजिक समीकरण को ध्यान में रखते हुए लालू यादव के खास भोला यादव को आरजेडी का प्रधान महासचिव बनाया जा सकता है। 

मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि पार्टी आलाकमान से नाराज चल रहे प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह का जाना तय हो गया है। उनकी जल्द ही छुट्टी होने वाली है। वैसे तो जगदानंद सिंह लालू परिवार के बहुत करीबी हैं, लेकिन लंबे समय से उनकी नाराजगी से पार्टी में गलत मैसेज जा रहा है। लालू यादव ने अब उन्हें पद से हटाने का मन बना लिया है। उनकी जगह अब्दुल बारी सिद्दीकी को बिहार आरजेडी का नया अध्यक्ष बनाया जाएगा।

आरजेडी की राजनीति मुस्लिम और यादवों पर टिकी है। ऐसे में संगठन में MY समीकरणों को ध्यान में रखते हुए नई नियुक्ति होने वाली है। वैसे तो लालू अभी बीमारी से जूझ रहे हैं और सिंगापुर से लौटने के बाद दिल्ली में आराम कर रहे हैं। मगर संगठनात्मक बदलाव के लिए उन्होंने हामी भर दी है। लालू यादव किडनी ट्रांसप्लांट के लिए दोबारा सिंगापुर जाने वाले हैं। कहा जा रहा है कि उनकी सिंगापुर यात्रा से पहले ही नए प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा हो जाएगी।

जगदानंद जाएंगे, सिद्दीकी आएंगे, घोषणा की तारीख भी तय !

कौन हैं अब्दुल बारी सिद्दीकी?

अब्दुल बारी सिद्दीकी आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के करीबी नेताओं में से एक हैं। जेपी आंदोलन के समय से ही उनके लालू से संबंध हैं। वे कर्पूरी ठाकुर की सरकार में मंत्री रह चुके हैं। 2010 में आरजेडी ने उन्हें नेता प्रतिपक्ष बनाया था। इसके बाद 2015 में महागठबंधन की सरकार में वित्त मंत्री बने थे। इसके अलावा वे बिहार क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। सिद्दीकी दरभंगा जिले के अलीनगर के रहने वाले हैं।

भोला यादव को मिलेगी बड़ी जिम्मेदारी!

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अब्दुल बारी सिद्दीकी के अलावा लालू यादव के खास माने जाने वाले भोला यादव को भी बड़ी जिम्मेदारी दी जाएगी। MY समीकरण को ध्यान में रखते हुए भोला यादव को आरजेडी का प्रधान महासचिव बनाए जाने की तैयारी है। यानी कि वे संगठन में लालू के बाद सबसे बड़े नेता बन जाएंगे। लालू यादव जब रेल मंत्री थे, तब भोला यादव उनके ओएसडी रहे थे। उन्हें लालू का हनुमान भी कहा जाता है। इस साल रेलवे में जमीन के बदले नौकरी देने के मामले में उन्हें गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में लालू, राबड़ी देवी और उनके कई करीबी आरोपी हैं।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Tech

Shraddha Murder Case: कल तिहाड़ जेल में होगा आफताब का पोस्ट नार्को टेस्ट, कैसे है ये नार्को से अलग?

Published

on

By



फोरेंसिक मनोविज्ञान विभाग (FSL) की टीम और अंबेडकर अस्पताल की टीम ने मिलकर आफताब का नार्को टेस्ट पूरा किया है। अब कल यानी 2 दिसंबर को आफताब का पोस्ट नार्को टेस्ट होगा।

Continue Reading

Tech

PAK vs ENG : इंग्लैंड से पिटाई के बाद अब पिच को लेकर सवालों के घेरे में पाकिस्तान, फैंस ने रमीज राजा से मांगा इस्तीफा

Published

on

By



ऐतिहासिक पाकिस्तान-इंग्लैंड टेस्ट सीरीज गुरुवार (1 दिसंबर) को इंग्लैंड के पिंडी क्रिकेट स्टेडियम में शुरू हुई। लेकिन रावलपिंडी की सपाट पिच देखकर फैंस के साथ-साथ दिग्गज भी निराश नजर आ रहे हैं।

Continue Reading

Tech

कैसे औरंगजेब की कैद से निकल गए थे छत्रपति शिवाजी? हाथ मलता रह गया था मुगल बादशाह

Published

on

By



मुगल बादशाह औरंगजेब ने शिवाजी को धोखे से आगरा किले में कैद करवा लिया था। हालांकि शिवाजी और उनके भाई संभाजी वहां से भाग निकले और औरंगजेब हाथ मलता रह गया।

Continue Reading

Trending

Copyright © 2022 All Right Reserved by AchookSamachar. Design & Developed by WebsiteWaleBhaiya