Connect with us

Sports

Mandeep Singh show helps India rally and register a 4 3 win over New Zealand in the opening FIH Pro League match

Published

on


ऐप पर पढ़ें

अंतिम क्वार्टर में मंदीप सिंह के दो मैदानी गोल की मदद से भारत ने शुक्रवार को अपना एफआईएच लीग अभियान न्यूजीलैंड पर 4-3 की जीत से शुरू किया। मंदीप ने 51वें और 56वें मिनट में गोल दागे। भारतीय टीम तीसरे क्वार्टर के अंत में 2-3 से पीछे चल रही थी।

विश्व रैंकिंग में पांचवें स्थान पर काबिज टीम के लिये मंदीप मोर ने 13वें और कप्तान हरमनप्रीत सिंह ने 41वें मिनट में गोल किए। दुनिया की नौंवे नंबर की टीम न्यूजीलैंड के लिये सैम लेन ने 22वें और 35वें मिनट में दो गोल दागे जबकि एक अन्य गोल जेक स्मिथ ने 34वें मिनट में किया।

न्यूजीलैंड ने शुरू में अधिक आक्रामक रूख अपनाया। भारतीय गोलकीपर पीआर श्रीजेश ने शुरू में ही एक लंबी रेंज के शॉट का बचाव किया। भारत को हालांकि मैच का पेनल्टी कॉर्नर मिल गया लेकिन शमशेर सिंह इसका फायदा नहीं उठा सके।

नीलकांत शर्मा ने मोर को सटीक पास दिया जिन्होंने आराम से गोल किया और न्यूजीलैंड के गोलकीपर डॉमिनिक डिक्सन कुछ नहीं कर सके। भारत ने दबदबा बनाया हुआ था और दूसरे क्वार्टर में इस बढ़त को दोगुना करने के लिये प्रयासरत था। लेकिन न्यूजीलैंड ने पहले ही पेनल्टी कॉर्नर पर गोल दागकर बराबरी हासिल कर ली।

सैम लेन के शॉट को सुरेंदर कुमार ने रोक दिया। मेहमान टीम ने रिव्यू लिया, जिसमें दिखा कि गेंद सुरेंदर के पैर से छूकर गयी और फिर लेन ने कॉर्नर से गोल कर दिया। इसके तुरंत बाद न्यूजीलैंड को एक और पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन इस बार कृष्ण बहादुर पाठक ने इसे रोक दिया और सिमोन चाइल्ड का प्रयास विफल रहा।

सुनील गावस्कर की भारतीय टीम को सलाह- जिम्बाब्वे को हल्के में मत लेना, साउथ अफ्रीका के खिलाफ भी संभलकर

पहले हाफ के बाद स्कोर 1-1 से बराबर था। तीसरे क्वार्टर में मुकाबला रोमांचक रहा जिसमें न्यूजीलैंड ने 34वें और 35वें मिनट में दो गोल कर दिये। भारत ने कप्तान हरमनप्रीत की मदद से 41वें मिनट में पेनल्टी पर किये गोल किया जिससे स्कोर 2-3 हो गया। तीसरे क्वार्टर के अंत में टीम 10 खिलाड़ियों के साथ थी क्योंकि सुमित को पीला कार्ड (खेल से 10 मिनट के लिये बाहर) दिखाया गया था। न्यूजीलैंड ने दो पेनल्टी कॉर्नर हासिल किये लेकिन गोल नहीं हुआ।

अंतिम क्वार्टर में भारत सात मिनट तक 10 खिलाड़ियों के साथ ही खेला जिसके बाद मंदीप ने दो गोल कर टीम को जीत दिलाई। मोहम्मद रहील ने भारत के लिये पदार्पण किया। भारत अब रविवार को यहां स्पेन से खेलेगा। 

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Sports

अल-नासर से जुड़ेंगे रोनाल्डो? सैलरी ऐसी, जो किसी ने सोची भी नहीं होगी

Published

on

By



स्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो जल्द ही सउदी अरब के फुटबॉल क्लब अल-नासर से जुड़ सकते हैं। ऐसा माना जा रहा है कि दोनों के बीच डील हो चुकी है और सैलरी सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे।

Continue Reading

Sports

Fifa World Cup 2022 Brazil vs South Korea HIGHLIGHTS Croatia vs japan Pre Quarterfinal Scorecard Neymar

Published

on

By


फीफा वर्ल्ड कप 2022 के सुपर-16 में सोमवार रात क्रोएशिया और ब्राजील ने अपने-अपने मुकाबले जीतते हुए क्वार्टरफाइनल में जगह बनाई। क्रोएशिया ने जहां पेनल्टी शूटआउट में जापान को धूल चटाई, वहीं ब्राजील ने साउथ कोरिया पर 4-1 से आसान जीत दर्ज की। क्रोएशिया के गोलकीपर डोमिनिक लिवाकोविच ने जापान के खिलाफ पेनल्टी शूटआउट में शानदार खेल दिखाते हुए  तीन गोल बचाये और अपनी टीम को अंतिम आठ में पहुंचाने में अहम योगदान दिया। पेनल्टी शूटआउट में क्रोएशिया ने जापान को 3-1 से शिकस्त दी। वहीं अन्य मुकाबले में ब्राजील ने पहले ही हाफ में चार गोल दागकर साउथ कोरिया पर अपना दबाव बनाया था।

FIFA World Cup 2022 को लेकर लियोनेल मेसी का बोल्ड प्रिडिक्शन, बताया कौन सी टीमें जीत सकती हैं खिताब

ब्राजील के विनीसियस जूनियर ने 7वें मिनट में पहला गोल कर अपनी टीम का खाता खोला, वहीं 13वें मिनट में चोट के बाद वापसी कर रहे स्टार खिलाड़ी नेमार ने टीम की बढ़त को दोगुना किया। ब्राजील के लिए अन्य दो गोल रिचर्डसन और लुकास पाक्वेटा ने क्रमश: 29वें और 36वें मिनट में दागे। फीफा वर्ल्ड कप में ब्राजील ने 1998 (4-1 बनाम चिली) के बाद पहली बार नॉकआउट में चार गोल किए हैं। साउथ कोरिया के लिए एकमात्र गोल पैक सेउंग-हो ने 76वें मिनट में दागा।

वहीं बात क्रोएशिया की करें तो उनकी ओर से निकोला व्लासिच, मार्सेलो ब्रोजोविच और मारियो पसालिच गोल करने में सफल रहे तो वहीं जापान के लिए सिर्फ ताकुता असानो ही गोल कर सके। टीम के लिए तुकामि मिनामिनो, कौरु मितोमा और माया योशिदा गोल करने में विफल रहे। क्रोएशिया के लिए मार्को लिवाजा गोल करने से चूक गये। 

पिछले विश्व कप के दौरान क्रोएशिया की टीम तीन बार अतिरिक्त समय तक चले मैचों को जीती थी और 2018 की उपविजेता ने एकबार फिर ऐसे मैचों में अपनी बादशाहत कायम की। यूरो और विश्व कप जैसे बड़े टूर्नामेंटों के नॉकआउट चरण में अतिरिक्त समय तक चने पिछले आठ मैच में से टीम की यह सातवीं जीत है। 

FIFA World Cup 2022 के क्वार्टर फाइनल में पहुंचा इंग्लैंड, सेनेगल को बुरी तरह हराया

जापान को पहले हाफ में 43वें मिनट में डेजेन माइडा ने गोलकर बढ़त दिलायी थी। टीम को मिले शॉर्ट कॉर्नर पर रित्सू डोन ने योशिदा को पास दिया और गेंद योशिदा के हेडर से माइडा के पास पहुंची और उन्होंने गोल करने में कोई गलती नहीं की।  क्रोएशिया ने हालांकि मध्यांतर के बाद 55वें मिनट में स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। लोवरेन के पास पर इवान पेरिसिच ने हेडर से गोल कर मैच में टीम की वापसी करायी। 

ग्रुप चरण में स्पेन और जर्मनी जैसी टीमों को हराने वाले ने इस मुकाबले में आक्रामक शुरुआत की। टीम ने शुरुआती तीन मिनट में दो प्रयास किया लेकिन क्रोएशिया की रक्षापंक्ति सजग थी। इसके बाद क्रोएशिया ने लय हासिल करा शुरू किया और टीम आठवें मिनट में बढ़त हासिल करने के करीब पहुंच गयी थी लेकिन जापान के गोलकीपर सुइजी गोंडा ने शानदार बचाव किया। ताकेहिरो तोमियासु की गलती का फायदा उठाते हुए पेरिसिच ने गेंद को गोल पोस्ट की ओर मारा लेकिन गोंडा ने एक बार फिर अच्छा बचाव किया।

चार मिनट के बाद जापान की टीम फिर से क्रोएशिया की रक्षापंक्ति से पार नहीं पा सकी। नागातोमो ने गेंद जुनया इटो को दी लेकिन वह मौका भुनाने में सफल नहीं रहे। टूर्नामेंट में अब तक क्रोएशिया की रक्षापंक्ति ने शानदार खेल दिखाया था और जापान के खिलाफ टीम ने आक्रामक रवैया अपनाते हुए बॉक्स में क्रॉसों की झड़ी लगा दी। इस दौरान  पेरिसिच के हेडर को जापान के खिलाड़ियों ने रोक दिया। इसके बाद  पेटकोविच भी अच्छी स्थिति में होने के बाद मौका गंवा बैठे।

मैच के 41वें मिनट में इटो जवाबी हमले के साथ क्रोएशिया के हाफ में पहुंचे लेकिन उनके बनाये मौके पर कामदा गेंद को नेट के ऊपर से मार बैठे। इसके बाद रित्सु डोन ने योशिदा के शानदार क्रॉस दिया जिस पर  माइदा ने गोल कर जापान को बढ़त दिला दी। मध्यांतर के बाद  55वें मिनट में पेरिसिच ने गोल कर स्कोर को बराबर कर दिया। 

FIFA World Cup 2022: थियेरी हेनरी को पीछे छोड़ फ्रांस की ओर से सबसे ज्यादा गोल करने वाले बने ओलाइवर गिरोड

मौजूदा विश्व कप में पेरिसिच का यह पहला गोल था जबकि इस टूर्नामेंट के इतिहास में यह उनका छठा गोल है । उन्होंने इस दौरान चार गोल में मदद भी की है। उनसे ज्यादा गोल और  मदद करने के मामले में  केवल लियोनेल मेस्सी (12) और किलियन एमबापे (11) का नाम है। बराबरी का गोल दागने के बाद क्रोएशिया का आत्मविश्वास बढ़ा हुआ था और मैच के 63वें मिनट में टीम के दिग्गज लुका मोड्रिच के दमदार प्रयास पर जापान के गोलकीपर ने शानदार बचाव किया। 

अब जापान की टीम मैच की गति बढ़ा रही थी लेकिन उसके खिलाड़ी गेंद को अपने पास बनाये रखने में सफल नहीं हो रहे थे। मैच के आखिरी मिनट में मातेओ कोवासिच को इतो से भिड़ने पर  रेफरी ने पीला कार्ड दिखाया। यह इस मैच का पहला पीला कार्ड था। नियमित समय में खेल बराबरी पर छूटने पर अतिरिक्त समय में जापान ने पहला कॉर्नर हासिल किया लेकिन टीम इसका फायदा नहीं उठा सकी। मैच के 94वें मिनट में मितामो गेंद को लेकर क्रोएशिया के हाफ में घुसे और गेंद असानो की ओर बढ़ा दी, लेकिन उन्होंने मौका गंवा दिया। 

मैच के 98वें मिनट में क्रोएशिया ने दो बदलाव किया कप्तान मोड्रिच की जगह लोवरो माजेर और कोवासिच की जगह वालसिच मैदान में उतरे। मैच के 105वें मिनट में मितोवा ने टीम के हाफ में गेंद को टैकल करने के बाद क्रोएशिया के खिलाड़ियों को छकाते हुए आगे बढ़े लेकिन उनके तेजतर्रार शॉट को गोलकीपर ने रोक लिया। इसके दो मिनट के बाद टीम में एक और मौका बनाया लेकिन असानो एक बार फिर चूक गये। 

अतिरिक्त समय के मध्यांतर के बाद क्रोएशिया के खिलाड़ियों ने अपनी लंबाई का फायदा उठाने के लिए गेंद का हवा में खेलना शुरू किया लेकिन मितोमा ने एक फिर गेंद पर नियंत्रण किया और गोल पर शॉट लगाने की जगह पास देना सही समझा। मैच के 111वें मिनट पर कोरिसिच ने क्रॉर्नर पर गोल करने का मौका बनाया लेकिन गोंडा ने गेंद को बॉक्स से बाहर भेज दिया।

इसके बाद जुरानोविच ने थ्रो इन पर प्रयास किया लेकिन गोंडा ने इसका अच्छा बचाव किया और फिर जापान ने जवाबी हमला किया लेकिन सफलता नहीं मिली। मैच के आखिरी स्टॉपेज टाइम में लोवारो मेजर को मौका मिला लेकिन उनका शॉट गोल से दूर निकल गया। 

 

Continue Reading

Sports

Lionel Messi Names 3 Countries That Can Win FIFA World Cup 2022 Apart from Argentina

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

अर्जेंटीना के महान फुटबॉलर लियोनेल मेसी ने कतर में खेले जा रहे फीफा वर्ल्ड कप 2022 को लेकर एक नई भविष्यवाणी की है। लियोनेल मेसी ने बताया कि उनके मुताबिक कौन सी 4 टीमें खिताबी जीत के लिए पसंदीदा हैं। यहां तक कि मेसी ने अर्जेंटीना को भी इसमें शामिल किया है, जिसे व्यापक रूप से प्रतियोगिता के 2022 संस्करण को जीतने के लिए पसंदीदा के रूप में देखा गया है। 

सुपर 16 के राउंड में ऑस्ट्रेलिया को हराने के बाद अर्जेंटीना ने पहले ही प्रतियोगिता के क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है। लियोनेल स्कालोनी-ट्यूटर वाली टीम अब सेमीफाइनल में आगे बढ़ने के मौके के लिए क्वार्टर फाइनल में नीदरलैंड्स का सामना करने वाली है। लियोनेल मेसी ने अर्जेंटीना के अलावा फ्रांस, ब्राजील और स्पेन को फीफा वर्ल्ड कप 2022 जीतने की दावेदार के रूप में देखा है। 

राउंड 16 में सेनेगल पर अपनी बड़ी जीत के बाद इंग्लैंड ने पहले से ही अंतिम आठ में जगह बनाई है, लेकिन 7 बार के बैलन डिओर अवॉर्ड विनर ने अनजाने में इंग्लैंड को अपने पसंदीदा की सूची से बाहर कर दिया। मेसी ने द मिरर यूके से कहा, “कैमरून के खिलाफ मिली हार को छोड़कर, ब्राजील बहुत अच्छा खेल रहा है। महान पसंदीदा में से एक है। इसके अलावा, फ्रांस और स्पेन, उनकी प्रगति के तरीके के बावजूद (जापान के खिलाफ हार), क्योंकि वे बहुत अच्छा खेले, वे वास्तव में स्पष्ट हैं कि उनका खेल क्या है जब उनके पास गेंद है, वे खेल के लंबे समय तक कब्जे को नियंत्रित करते हैं।”

 

Continue Reading

Trending

Copyright © 2022 All Right Reserved by AchookSamachar. Design & Developed by WebsiteWaleBhaiya